This page has moved to a new address.

पिता जी की संपत्ति में माता जी का हिस्सा है, आप को विभाजन के लिए न्यायालय में वाद प्रस्तुत कर देना चाहिए