This page has moved to a new address.

अदालत की डिक्री के बावजूद पत्नी को पति के साथ रहने का बाध्य नहीं किया ज सकता