This page has moved to a new address.

क्या पुश्तैनी संपत्ति वसीयत की जा सकती है?